Positive Personal Attitudes

1
46

Positive Personal Attitudes

सकारात्मक व्यक्तिगत दृष्टिकोण/मनोवृत्ति

सकारात्मक व्यक्तिगत दृष्टिकोण का अर्थ समझने के लिए हमें सर्वप्रथम दृष्टिकोण के को समझना होगा।

दृष्टिकोण से आशय (Meaning of Attitudes) — दृष्टिकोण से अभिप्राय किसी एक व्यक्ति, समूह, वस्तु या विचार के विश्लेषण करने की एक मानसिक प्रक्रिया से है। दृष्टिकोण का एक व्यक्ति की पसन्द तथा नापसन्द एवं उसके व्यवहार के ऊपर अत्यन्त प्रबल प्रभाव होता है अर्थात् दृष्टिकोण एक भावगत घटना है। अतः दृष्टिकोण व्यक्ति के स्वभाव एवं व्यवहार को प्रभावित करने वाला महत्त्वपूर्ण घटक है। व्यक्ति की सफलता का मुख्य आधार • उसका दृष्टिकोण होता है तथा उसी से उसकी पहचान बनती है।

मोर्गन एवं आइसिंग के अनुसार, “दृष्टिकोण किसी व्यक्ति, वस्तु तथा परिस्थिति के लिए सकारात्मक या नकारात्मक प्रतिक्रिया को अभिव्यक्त करने की प्रवृत्ति है। इसमें मुख्यतः तीन तत्त्व होते हैं— ज्ञान, भावना एवं कार्य।”

बोगार्ड्स के अनुसार, “यह एक कार्य करने की प्रवृत्ति है जो कि कुछ वातावरणीय तत्त्वों के पक्ष में या विपक्ष में होती है जिसके फलस्वरूप यह एक सकारात्मक अथवा नकारात्मक मूल्य अपना लेती है ।”*

क्रेच एवं क्रेचफील्ड के अनुसार, “दृष्टिकोण एक चिरस्थायी सम्प्रेरणाओं, संवेगों, प्रत्यक्ष एवं ज्ञानात्मक प्रक्रियाओं का संगठन है जो व्यक्ति के संचार के कुछ पक्षों के बारे में होता है।”

के० यंग के अनुसार, “एक दृष्टिकोण अनिवार्य रूप से एक प्रत्याशी प्रत्युत्तर का स्वरूप है, एक क्रिया का प्रारम्भ है जो आवश्यक नहीं कि पूर्ण हो। इसके साथ ही इस प्रतिक्रिया की तत्परता में किसी प्रकार की उत्तेजना, विशिष्ट या सामान्य निहित होती है ।

Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here